Monday, 20 May 2019

“ख़ुशी मनाउ या दुख” By Sonee Singh Chauhan

उन लोगों से बस इतना ही कहूँगी कि मैं मानती हूँ प्रॉब्लम्स हैं पर आप से बड़ी तो नहीं। ज़िन्दगी बहुत खुबसूरत है पर शर्त यह है कि इसे दूसरों के दम पर नहीं अपने दम पर जियो जिससे सही के हक में और गलत के अगेंस्ट खड़े हो सको। परिस्थितियाँ हमेशा अनुकूल नहीं होती, संघर्ष करना पड़ता है उन्हें अनुकूल बनाने के लिए।
अच्छे दिनों के लिए बुरे दिनों से लड़ना पड़ता है और सच मानिये जब हम जीत जाते हैं तब हमें दुनिया में बुराईयाँ कम अच्छाईयाँ ज्यादा नज़र आती हैं। ये मेरा खुद का अनुभव है इसलिए एक लक्ष्य निर्धारित कीजिए और उसके पीछे तब तक दौड़िये जब तक वो आपकी मुट्ठी में ना हो।
सोनी सिंह चौहान का जन्म 7 जुलाई 1992 को उत्तर प्रदेश के एटा जिले के बाजीदपुर गाँव में हुआ। इनकी स्कूली शिक्षा धुमरी में हुई, स्नातक व परास्नातक जे.एल.एन कॉलेज एटा से किया।
Shop on Amazon Flipkart ShopClues and BlueRose

No comments:

Post a comment